वीर माताएँ

Veer Mataye

50.00

10 in stock

SKU: 544da010651f Categories: ,

 वीर माताएँ 

“राष्ट्राय स्वाहा” का मंत्रघोष करते हुए स्वातंत्र्यज्ञ में अपने जीवन की आहुति देनेवाले क्रांतिवीरों की कथाएँ| उनकी वीरगाथा युवा पीढ़ी के सामने रखने की आवश्यकता है| इस आवश्यकता को पुरा करने की दिशा में श्रीमती संगीता पवार ने इस पुस्तक के माध्यम से उठाया हुआ एक पुरोगामी कदम है| रूपकों के व्दारा पाठकों के सामने प्रस्तुत है- क्रांतिकारियों की माताओं की भावनाओं का प्रभावी रूप |

Weight 080.00 g
Publisher

Suruchi Prakashan