दिग्विजयी हो भारत

Digvijayi Ho Bharat

35.00

3 in stock

SKU: 6c751300cd58 Categories: , ,

दिग्विजयी हो भारत

प.पू. सरसंघचालक मा. मोहन जी भागवत के दिल्ली आगमन पर 31 मार्च, 2009 को दिल्ली प्रान्त ने एक कार्यक्रम ऐतिहासिक स्थल रामलीला मैदान में करने तथा स्वयंसेवकों को पूर्ण गणवेश में उपस्थित रहने की योजना बनाई | इस कार्यक्रम में प्रस्तावना के रूप में क्षेत्रसंघचालक मा. बजरंगलाल जी गुप्त का प्रबोधन तथा पूज्य सरसंघचालक जी का मार्गदर्शन स्वयंसेवको को गतिशीलता प्रदान करने वाला था| प.पू. सरसंघचालक जी ने कहा की कार्यकर्ताओं के सतत परिश्रम के फलस्वरूप वातावरण में अनुकूलता आई है. संघ का सम्मान भी बढ़ा है और राष्ट्रिय स्वयंसेवक संघ विश्व का नम्बर एक संगठन सबको दिखाई पड़ रहा है| इसे और गति सी आगे बढ़ाने की आवश्यकता है तथा सबके सम्मिलित प्रयास से भारत दिग्विजयी होकर विश्व के लिए शान्ति का मार्ग प्रशस्त करेगा – इसमे कोई संदेह नहीं| सुरुचि प्रकाशन, दिल्ली ने इन सब सूत्रों को क्रमबद्ध करके एक पुस्तक “दिग्विजयी हो भारत” में समाहित करने का प्रयास किया है| यह पुस्तक सार्वकालिक तथा स्वयंसेवकों के साथ-साथ सम्पूर्ण समाज के लिए भी उपयोगी होगी – ऐसा विश्वास है |

Weight 104.00 g
Publisher

Suruchi Prakashan