कम्युनिस्ट आतंकवाद

Kamunist Atankwad

100.00

Out of stock

SKU: 5fe7d02b0ea5 Category:

 कम्युनिस्ट आतंकवाद के शिकार देशभक्त भारतीयोंको समर्पित करते हुए लेखक तरुण विजयजी यह  विश्वास करते है की शीघ्र  ही हम वह दिन देखेंगे जब इस्लामी जिहाद के साथ साथ कम्युनिस्ट आतंकवाद से भी देश को मुक्ति मिलेगी.

अनुक्रम 

1. भूमिका 

2. अपनी बात 

3. साम्यवादी आतंकवाद 

4. नक्सलवाद का दंश 

5. कम्युनिस्ट आतंकवाद -केरल 

६. कम्युनिस्ट आतंकवाद -पश्चिम बंगाल

७. कम्युनिस्ट आतंकवाद – विहार, झारखण्ड, छत्तीसगढ़

8. कम्युनिस्ट आतंकवाद -नेपाल

Weight 243.00 g
Publisher

Suruchi Prakashan